रजनी माँ-सी, आपके लिए..

माँ-सी, आप मेरे लिए माँ जैसी हो, मुझे आशीर्वाद दो कि ज़िन्दगी में किसी के लिए कुछ अच्छा कर पाऊँ | अपने लिए तो आज तक किया ही है मैंने, अब समाज के लिए कर पाऊँ |

मुझे आशीर्वाद दो कि मैं माँ-पापा का, आपका और अपने सभी बड़ों का आदर सम्मान करती रहूँ |

माँ-सी, मैं आपको आज के दिन कुछ दे तो नहीं सकती लेकिन अगर फिर भी आपको अपनी बेटी से कुछ चाहीए तो बताना | मैं कोशिश करूँगी आपकी ईच्छा पूरी करने की |

मैं प्रार्थना करती हूँ कि आप हमेशा खुश रहें, सुखी रहें|

प्रणाम 🙏

Happy mother’s day, maasi😘😘

Advertisements

10 Comments Add yours

  1. तुमने बात तो किया नहीं। रिस्क लेके नम्बर दिया था। तुम्हारी आवाज़ सुनने की इच्छा थी। कोई जबर्दस्ती नहीं है। तुम्हारी भी कोई मजबूरी होगी। वैसे मैं बनारस यू. पी की रहने वाली हूं। एफ. बी. पर मेरा नाम सर्च कर मेरी जानकारी ले आसवस्त हो सकती हो। और मेरे लिए तुमने टाइम्स निकाल कुछ लिखा है ये मेरे लिए सबसे बड़ा उपहार है। बच्चे समय दे दें उससे बढ़कर कोई उपहार नहीं है समझी बिटिया रानी।

    Liked by 1 person

    1. माँ-सी आप check कीजिए | आपको mail कू थी मैंने, आपको पूछा था कि किस वक्त आप free होती हैं | शायद misplace हो गया | माँ-सी आपकी number आज भी फोन में माँ-सी के नाम से फीड है | मैं कल आपको फोन करूँगी 11 बजे के बाद दिन में |
      आपका दिल दुखाने के लिए माफी चाहती हूँ |

      Like

      1. माँ से माफी नहीं आशिर्वाद मांगा जाता है जो हमेशा तुम्हारे साथ है। किसी भी हाल में मां बच्चों को खुश देखना चाहती है बस।

        Liked by 1 person

      2. शुक्रिया माँ-सी, मैने आपका दिल अनजाने में दुखाया | आपने reply नहीं किया तो मुझे लगा आप व्यस्त हैं | मैं सच में शरमिंदा हूँ |
        आप इतना प्यीर देते हो, उसके लिए आभार |🙏

        Liked by 1 person

      3. मैं तुम्हारे फोन का इंतजार कर रही हूँ।

        Liked by 1 person

      4. माँ-सी मैं करने लगी हूँ call आप उठाना

        Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s