ज़िन्दगी के रंग..

ग़मों और खुशियों के हसीन मौसम में चलती इस धीमी हवा संग बहती हूँ मैं, पत्ते जैसे पेड़ों से झड़ते हैं पतझड़ में कभी-कभी उनके जैसे ज़मीन पर गिरती हूँ मैं, हैं कई बारिश की बूँदें भी टपकती सावन में कुछ बूँदें इन पलकों के बादल में भरती हूँ मैं, चिड़िया चहके जैसे ऊपर उस…

अल्फ़ाज़ों की कमी…

अल्फ़ाज़ों की कमी आज मेरी कलम से झलकती है कुछ एहसासों की कोयल नीले अम्बर में चहकती है मैं एक मोती के जैसे भटकती दुनिया के सागर में फिर अश्कों की बूंदे आँखों के अम्बर से टपकती हैं। कुछ लम्हों में मेरे किस्से यूँ ही सिमटते हैं कुछ ख्वाबों के मंज़र भी तो यूँ ही…

ज़िन्दगी…

​ कुछ हमारे हाथों की लकीरों की मेहरबानी है ज़िन्दगी  कुछ इस कुदरत की मनचाही मेज़बानी है ज़िन्दगी हैं चाँद, ये तारे, ये ज़मीन और आसमां जिसके उसी खुदा की कलम से लिखी कहानी है ज़िन्दगी किसी को कुछ जज़्बातों से मिली सज़ा है ज़िन्दगी कहीं कुछ हालातों से बदली वो हवा है ज़िन्दगी ये बरसते हुए बादल वो…

मेरा ही तो कसूर था..!

​हर छोटे बड़े फैसले दूसरों को लेने दिए कभी आंसू छुपाये कभी आँखों को भिगो दिया मेरा ही तो कसूर था । चारों और चांदनी देख दिल में अँधेरे छुपा लिए अँधेरी राहों में अपने पांवों को काँटों पर चला दिया मेरा ही तो कसूर था । ज़िन्दगी की भीड़ में अनजाने लोग अपने बना…

Faasley..!

Hain jo faasley tere mere darmiyan Mit’te hain kyon nahin Khafa hone ki wajah hamare pas bhi thi Jo hum khafa na huye Kya wo hamari khata thi ya tumhari? Khata tumhari thi to saza hume kyun Aur hamari thi to saza mein judai kyun?

माँ..

​हर छोटी-बड़ी बात में आपसे उलझती रहती हूँ आपके समझाने को भी डांट समझ कर रो देती हूँ माँ आपके लिए तो मैं आज भी वही गुड़िया हूँ शायद मैं खुद ही अब ज़्यादा सयानी हो गई हूँ ॥ मेरे अच्छे के लिए जब रोको तो भी रूठ जाती हूँ छोटी सी बात पर यूँ…

आज भी प्यार आता है..!

​Note: This is from a behalf of a child who was disowned by own parents because she was a girl child. ठुकरा दिया था जिन्होंने यूँ ही एक पल में आज क्यों उन पर मुझे इतना प्यार आता है हाँ जो भी शिकायतें थी उन्हें मुझसे कही क्यों नहीं , मन में यही सवाल आता है…

क्या मुझे कोई हक़ नहीं..

एक सवाल आया था दिल में , क्यों प्यार पाने की उम्मीद मेरी टूट सी जाती है न जाने है कैसी ख्वाइश ये जो छूट सी जाती है नहीं ये मेरे नसीब में, ऐसा भी नहीं फिर प्यार पाने का, क्या मुझे कोई हक़ नहीं? एक तूफ़ान सा उठा है दिल में , जिसके जितना…

माँ  तो  वो  भी  होती  है..

खून  का  रिश्ता  जिसके  साथ  हो, क्या  वही  माँ  होती  है , जन्म  देना  हमे  जिसके  हाथ  हो, क्या  वही  माँ  होती  है , खून  के  रिश्ते  बिन  जो  रिश्ता  बनाये, माँ  तो  वो  भी  होती  है बिन  जन्मे  जो  पहचान  दे, माँ  तो  वो  भी  होती  है । प्यार  की  भावना  में  बहती  है,…

खो दिया उसे..!!

मैंने उसे थोड़ा सा जो पाया था उस थोड़े का बहुत खो दिया है, वो शक़्स जो कभी मेरा अपना था उसी ने आज बेगाना बना दिया है | कोई गलती थी मेरी अपनी ही शायद शायद उसे कोई मेरी बात चुभी थी, उसे भी तो उतनी ही तकलीफ होगी शायद शायद उसके दिल में…

तेरे लिए..

कुछ लफ्ज़ सजा लूँ तेरे लिए या ख्वाब चुरा लूँ मैं तेरे लिए दुआएं करूँ ये जहाँ छुपा लूँ मैं | नगमे बजा दूँ तेरे लिए या गीत लिख दूँ कोई मैं तेरा सजदा करूँ सदा खुद को भुला दूँ मैं | शामें महका दूँ तेरे लिए या चंदा उतारूँ मैं तेरे एहसासों में सजन…

हाँ  कई  दफा..!!

जब  याद  में  तुम्हारी  मैं हर  शाम  बिता  देती  हूँ रात  को  सुबह  का  इंतज़ार  होता  है हाँ  कई  दफा  यूँ  ही  होता  है दिल  को  बस  तुम्हारा  ही  ख्याल होता  है कभी  पलकें  रूठ  जाती  हैं कभी  आंसुओं  को  मनाती  हूँ ऐसे  ही  दिल  मेरा  करार  खोता  है हाँ  कई  दफा  यूँ  ही  होता…